लखनऊ: CMO ने बताई कोरोना की दवा, कोविड-19 के संपर्क में आने पर कैसे करें इस्तेमाल

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) आर. पी. सिंह ने बुधवार को कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा का नाम बताया है। सीएमओ के मुताबिक, आइवरमेक्टिन

(Ivermectin 12 mg) दवा कोरोना से बचने में मददगार है। सीएमओ के मुताबिक, होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव मरीजों को 3 दिन तक रोजाना एक-एक टेबलेट लेनी चाहिए। जबकि प्राइमरी और सेकेंड्री कॉन्टैक्ट को पहले दिन 1 और सातवें दिन 1 टेबलेट लेने की सलाद दी गई है।

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) आर. पी. सिंह ने बुधवार को कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा का नाम बताया है। सीएमओ ने आइवरमेक्टिन (Ivermectin 12 mg) दवा को कोरोना से बचने में मददगार बताया है। साथ ही लोगों से अपील की है कि वह जरूरत पड़ने पर इसे इस्तेमाल करें।

हालांकि सीएमओ ने यह भी बताया है कि यह दवा किसे इस्तेमाल करनी चाहिए। सीएमओ के मुताबिक, होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पॉजिटिव मरीजों को 3 दिन तक रोजाना एक-एक टेबलेट लेनी चाहिए। जबकि प्राइमरी और सेकेंड्री कॉन्टैक्ट को पहले दिन 1 और सातवें दिन 1 टेबलेट लेने की सलाद दी गई है।

सीएमओ ने जारी की प्रेस विज्ञप्ति

कौन होते हैं प्राइमरी और सेकेंड्री कॉन्टैक्ट

प्राइमरी और सेकेंड्री कॉन्टैक्ट में वे लोग आते हैं जो किसी कोरोना संक्रमित शख्स के संपर्क में आए हों। इसके अलावा ऐसे किसी व्यक्ति को कोरोना संक्रमण हुआ हो जिससे वह बीते 10 दिनों में मिले हों। इनमें घर का ही संक्रमित सदस्य, पड़ोसी, सहकर्मी जैसे लोग आते हैं।
Covid-19, डॉ. रेड्डीज लैब ने भारत में उतारी कोविड-19 के इलाज की दवा, घर बैठे मिल जाएगी
लखनऊ में कोरोना संक्रमण तेजी से अपने पैर पसार रहा है। शहर में रोजाना 600 या उससे ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। बुधवार को भी शहर में 767 मरीज मिले। इसी के साथ ऐक्टिव मरीजों की संख्या 6941 हो गई है। बीते 24 घंटों में 7 मरीजों की मौत के साथ मृतकों की संख्या 235 हो गई है