नौसढ़ में रोड धसने को लेकर सहमे आसपास के लोग

गोरखपुर। राप्ती नदी में बढे जलस्तर बढ़ने से पिछले 1 हफ्ते में बाढ़ ने सबको मुश्किल में डाल दिया था। फिर अभी जब से राप्ती नदी के जलस्तर में कमी आई है प्रशासन के साथ साथ बाढ़ से घिरे लोगो की भी कुछ राहत मिली है।

बाढ़ के दौरान नदियों के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए सभी लोग अपने अपने क्षेत्र में सक्रियता के साथ बंधे का रख रखाव किया। नौसढ़ में बंधे की सुरक्षा को लेकर पार्षद प्रतिनिधि कृष्ण मोहन यादव उर्फ लल्लू पहलवान ने दिन व रात मेहनत कर बंधे की सुरक्षा में लगे रहे साथ ही बंधे की सुरक्षा के लिए बंधे पर लाइटिंग की व्यवस्था कराई जिससे बंधे पर उजाला रहे और कहीं कोई भी अनहोनी का चांस ना रहे *लेकिन आज सुबह 5:00 बजे लोगों ने पार्षद प्रतिनिधि कृष्ण मोहन यादव उर्फ लालू पहलव्वान को फोन कर सूचना दिया कि नौसढ़ हरैया पानी टंकी के पास रोड धसी हुई है।* इसकी सूचना पाकर पार्षद प्रतिनिधि ने तत्काल मौके पर जाकर देखा तो रोड धशी हुई थी उसके बाद फोन से जेई को सूचना देकर मौके पर बुलाकर रोड धसने का कारण पहचान में जुट गये । रोड के अंदर जमा हुए पानी को बाहर निकलवा कर उसमें सादा बालू बालू व मौरंग मोरंग बालू डालकर बोरे में भरी हुई मिट्टियों के सहायता से भरकर चारों तरफ से लगा दिया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से आसपास बोरिंयों का घेरा बना दिया गया है पार्षद प्रतिनिधि ने बताया कि हम लोग एक बार सन 1998 में बाढ़ का विनाश लीला देख चुके हैं इसलिए हम लोग रोड से संबंधित कहीं भी कोई घटना होने पर जैसे धसने आदि को हल्के में नहीं लेंगे।