अखिलेश यादव ने किया ऐलान, शिवपाल यादव की पार्टी संग करेंगे गठबंधन, कहा दिया जाएगा पूरा सम्मान

यूपी चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी का कुनबा एक बार फिर से एकजुट होता दिख रहा है। बुधवार को अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल यादव की पार्टी के साथ गठबंधन करने का ऐलान कर दिया है।

यूपी विधानसभा चुनाव के लिए अखिलेश यादव ने अपने चाचा शिवपाल यादव ने साथ चुनावी मैदान में आने का ऐलान कर दिया है। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सपा, शिवपाल यादव की पार्टी के साथ गठबंधन करेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शिवपाल यादव की पार्टी को पूरा सम्मान दिया जाएगा।

इससे पहले प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के प्रमुख शिवपाल यादव ने हाल के दिनों में कई बार कहा था कि वह 2022 के चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी के साथ गठजोड़ करना पसंद करेंगे। ऐसा लग रहा था कि शिवपाल यादव, अपने भतीजे अखिलेश से गठबंधन पर हरी झंडी का मिलने का इंतजार कर रहे थे। अब दिवाली के मौके पर आखिरकार अखिलेश ने अपने चाचा से गठबंधन को लेकर ऐलान कर ही दिया।

बुधवार को इटावा जिले के अपने पैतृक गांव सैफई में मीडिया से बात करते हुए अखिलेश ने कहा- “समाजवादी पार्टी 2022 के यूपी चुनावों के लिए क्षेत्रीय और छोटे दलों को एक साथ लाने की लगातार कोशिश कर रही है। ऐसे कई संगठन एसपी के साथ आए हैं, हाल ही में ओपी राजभर ने मऊ में एक ऐतिहासिक कार्यक्रम का आयोजन किया था और हमारे साथ अपने जुड़ाव की घोषणा की थी”।

अपर्णा यादव बोलीं- शिवपाल ने समाजवादी पार्टी के लिए पुलिस से खाया था थप्पड़, बोरे में छिपे थे
उन्होंने आगे कहा- “सपा अधिक क्षेत्रीय और छोटे संगठनों के साथ गठबंधन करने की कोशिश करेगी, जाहिर है कि चाचा शिवपाल की भी एक राजनीतिक पार्टी है, हम उनके साथ भी गठबंधन करने की कोशिश करेंगे और उन्हें समाजवादी लोगों से अधिकतम सम्मान मिलेगा। मैं आपको इसका आश्वासन देना चाहता हूं।”

2017 विधानसभा चुनाव ने पहले पारिवारिक विवाद और सत्ता के संघर्ष में दोनों चाचा-भतीजे अलग हो गए थे। अखिलेश यादव के पास जहां समाजवादी पार्टी रह गई थी, तो वहीं शिवपाल यादव ने अपनी पार्टी बना ली थी। यह विवाद, इस साल 22 नवंबर को मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर खत्म होने का अनुमान है। कहा जा रहा है कि शिवपाल, नेताजी के जन्मदिन को आखिरी उम्मीद के तौर पर देख रहे थे। हालांकि अब अखिलेश ने शिवपाल यादव की पार्टी से गठबंधन करने की पुष्टि करते हुए सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है।